• A-AA+
  • NotificationWeb

    Title should not be more than 100 characters.


    0

WeatherBannerWeb

महाराष्ट्र के जिले

महाराष्ट्र को 6 राजस्व प्रभागों में विभाजित किया गया है, जो आगे 36 जिलों में विभाजित हैं। इन 36 जिलों को आगे जिलों के 109 उप-मंडलों और 357 तालुकों में विभाजित किया गया है।
महाराष्ट्र सरकार ने मराठवाड़ा क्षेत्र में मौजूदा औरंगाबाद डिवीजन को विभाजित करते हुए नांदेड़ में एक नया आधिकारिक राजस्व प्रभाग शुरू करने का निर्णय लिया है। अनुमोदन 5 जनवरी 2009 को पहले ही संसाधित किया जा चुका है। नए नांदेड़ मंडल में नांदेड़, लातूर, परभणी और हिंगोली जिले शामिल होंगे। राज्य ने औरंगाबाद संभागीय आयुक्त (राजस्व) को इस उद्देश्य के लिए एक करोड़ रुपये की राशि प्रदान की है, इसके अलावा यह घोषणा करने के अलावा कि नया डिवीजन एक विशेष रूप से नियुक्त अधिकारी और 10 सहायकों द्वारा शुरू में चलाया जाएगा।
निर्णय इस तथ्य के कारण आता है कि औरंगाबाद डिवीजन, जिसमें औरंगाबाद नांदेड़, लातूर, जालना, परभणी, उस्मानाबाद, हिंगोली और बीड शामिल थे, अपने आप में एक बहुत बड़ा डिवीजन था। इसके अलावा, औरंगाबाद से 260 किलोमीटर से अधिक दूर नांदेड़ और लातूर की आबादी क्रमशः 28,76,000 और 20,80,000 है, इस प्रकार उन्हें बड़े उप-भाग बनाते हैं।
इसके अतिरिक्त, परभणी और हिंगोली भी औरंगाबाद से 200 किमी से अधिक दूर हैं, इसलिए इन चार जिलों की आबादी को औरंगाबाद राजस्व कार्यालय में अधिकारियों से मिलने पर बहुत परेशानी का सामना करना पड़ेगा। यह नया आधिकारिक विभाजन अभी तक प्रभावी नहीं हुआ है।


जिलों की सूची

जिला टैब गैलरी

TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image
TabGalary-Image